अधिक माह में दीप दान कैसे करे | Adhik ma me deep daan kare |


अधिक माह में दीप दान कैसे करे 

अधिक मॉस 


पुरुषोत्तम मॉस में भगवान् के आगे करे सिर्फ एक दिया 

जन्मो जन्म की दरिद्रता मिट जायेगी 

अधिक माह मे दीपदान कैसे करे ?

कर्तव्यं दीपदानं च पुरुषोत्तमतुष्टये | 

तेन ते तीव्र दारिद्र्यं समूलं नाशमेष्यति || 

तिलतैलेन कर्तव्यः सपिषा वैभवे सती | 

तयोर्मध्ये न किञ्चित्ते कानने वसतोऽधुना || 

पुरुषोत्तम माह में भगवान् विष्णु ( पुरुषोत्तम ) के आगे सिर्फ एक दिया प्रज्वलित करे 

ऐसा करनेवाले साधक या मनुष्य की तीव्र से तीव्र दरिद्रता का विनाश हो जाता है | 

अगर परिस्थिति अच्छी हो तो गाय के घी का दीपक प्रज्वलित करे 

या तिल के तेल का दीपक प्रज्वलित कर के भगवान् विष्णु के आगे अर्पण करे | 

( अ.मा.अ.24/13-14-15 )


ॐ ऐं | ॐ श्रीं | ॐ क्लीं |


अधिक माह में भगवान् को दीप दान करने से क्या फल मिलता है ?

लक्ष्मी में वृद्धि होती है,स्थिर लक्ष्मी की प्राप्ति होती है |

वेदो में कहे हुए  सभी कर्मो से जो फल मिलता है |

 वो सिर्फ एक दीप दान करने से मिलता है |

सर्वतीर्थ और शास्त्र पुरुषोत्तम माह के दीपदान 

की सोलहवीं कला के बराबर भी नहीं है |

योग-सांख्य-सर्वतंत्र-सर्व शास्त्र सर्व व्रत-चांद्रायण व्रत-हजारो ग्रहण आदि भी 

पुरुषोत्तम माह के दीपदान की सोलहवीं कला के बराबर भी नहीं है |

जो विद्यार्थी पढ़ने में कमजोर है वो अगर दीपदान करता है तो विद्या प्राप्त करता है 

जिनको सिर्फ धन दौलत चाहिए वो धनवान बनता है |

जिनको भक्ति चाहिए वो हरी भक्त बनता है ( हरी अर्थात विष्णु आदि देवता )

भगवान् सभी इच्छाओ को पूर्ण करते है |

|| अस्तु || 

अधिक माह में दीप दान कैसे करे | Adhik ma me deep daan kare |  अधिक माह में दीप दान कैसे करे | Adhik ma me deep daan kare | Reviewed by karmkandbyanandpathak on 3:16 AM Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.