गणेश आरती | जय गणेश देवा | Jay Ganesha Deva | Aarti |


गणेश आरती 

गणेश आरती | जय गणेश देवा | Jay Ganesha Deva | Aarti |
जय गणेश देवा 
|| गणेश आरती || 
|| जय गणेश देवा || 
जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा | 
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा || जय गणेश,,,,,

एकदन्त दयावन्त चारभुजा धारी | 
माथे सिंदूर सोहे मूषक सवारी || जय गणेश,,,,,

अन्धन को आँख देत कोढ़ियन को काया | 
बाँझत को पुत्र देत निर्धन को माया || जय गणेश ,,,,,

हार चढ़े फूल चढ़े और चढ़े मेवा | 
लड्डुअन का भोग लगे संत करे सेवा || जय गणेश,,,,,

दीनन की लाज राखो शम्भू पुत्र वारी | 
मनोरथ को पूरा करो जय बलिहारी || 
जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा || 

|| अस्तु || 
|| जय गणेश || 
गणेश आरती | जय गणेश देवा | Jay Ganesha Deva | Aarti | गणेश आरती | जय गणेश देवा | Jay Ganesha Deva | Aarti | Reviewed by karmkandbyanandpathak on 3:11 PM Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.