रुद्राक्ष कब धारण करना चाहिए ? Rudraksh Kab Dharan karna chahiye ?


रुद्राक्ष कब धारण करना चाहिए ?

रुद्राक्ष कब धारण करना चाहिए ?
किस समय रुद्राक्ष धारण करना चाहिये ?
बिना रुद्राक्ष कभी ना करे ये काम 

स्नाने दाने जपे होमे वैश्वदेवे सुराचने | 
प्रायश्चित्ते तथा श्राद्धे दीक्षाकाले विशेषतः || 
अरूद्राक्षधरो भूत्वा यत्किञ्चित कर्म वैदिकं | 
कुर्वन्विप्रस्तु मोहेन नरके पतित ध्रुवम् ||  

स्नान (नित्यस्नान-तीर्थादि स्नान आदि )
दान करते समय 
मंत्रजाप करते समय 
यज्ञ यागादि कर्म करते समय 
वैश्वदेव करते समय 
सुरार्चन करते समय 
प्रायश्चित करते समय 
श्राद्ध करते समय 
दीक्षा देते या दीक्षा लेते समय 
रुद्राक्ष अवश्य धारण करना चाहिए 
इन सभी कार्यो में ( वैदिक कर्मो ) बिना रुद्राक्ष धारण किये कर्म करने से 
मनुष्य मोह से नरक में जाता है 

कोई भी रुद्राक्ष या रुद्राक्ष माला धारण कर सकते है 
रुद्राक्ष कब धारण करना चाहिए ? Rudraksh Kab Dharan karna chahiye ? रुद्राक्ष कब धारण करना चाहिए ? Rudraksh Kab Dharan karna chahiye ? Reviewed by karmkandbyanandpathak on 11:11 AM Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.