अच्युताष्टकं | Achyutashtakam |

 

अच्युताष्टकं

अच्युताष्टक 



भगवान् विष्णु के यह नाम परमपवित्र और कल्याणकारी है | 
तीनो काल में इसका स्मरण करने से दारिद्रता का विनाश होता है | 
शत्रुओ का विनाश होता है | 
ब्रह्मविद्या की प्राप्ति होती है | 

ॐ अच्युतं केशवं विष्णुं हरिं सत्यं जनार्दनम् | 
हंसं नारायणं चैवमेतन्नामाष्टकं पठेत् || 
त्रिसन्ध्यं यः पठेन्नित्यं दारिद्र्यं तस्य नश्यति | 
शत्रुसैन्यं क्षयं याति दुःस्वप्नः सुखदो भवेत् || 
गंगायां मरणं चैव दृढ़ा भक्तिस्तु केशवे | 
ब्रह्मविद्याप्रबोधश्च तस्मान्नित्यं पठेन्नरः || 

|| इति श्रीवामनपुराणे विष्णोर्नामाष्टक स्तोत्रं सम्पूर्णं || 
अच्युताष्टकं | Achyutashtakam | अच्युताष्टकं | Achyutashtakam | Reviewed by karmkandbyanandpathak on 5:36 AM Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.