व्यापार वृद्धि मंत्र | Vyaapar Vruddhi Mantra |

 

व्यापार वृद्धि मंत्र

व्यापार वृद्धि मंत्र



यह मंत्र व्यापारियों के लिए चमत्कारिक साबित ह सकता है | 
नित्य सुबह स्नान आदि करके तीन माला करे | 
और रात को सोने से पहले नित्य तीन माला  कर के सो जाए | 
इस मंत्र की साधना में रुद्राक्ष की माला या 
स्फटिक की माला का प्रयोग कर सकते है | 
इस साधना में विशेष कोई निति नियमो का ध्यान रखने की आवश्यकता नहीं है | 

मन्त्र 
"ॐ ह्रीं श्रीं क्रीं श्रीं लक्ष्मी मम गृहे निवासय निवासय 
व्यापारे धन पूरय पूरय चिन्ताम् दूरय दूरय नमः"

मंत्र का अर्थ 
ॐ सहित बीज मंत्रो से आरम्भ कर के 
हे माँ लक्ष्मीजी मेरे घर  में निवास करे निवास करे | 
व्यापार में धन की पूर्ति करे पूर्ति करे | 
मेरी चिंता को दूर करे दूर करे | 

|| व्यापार वृद्धि मंत्र समाप्त || 


व्यापार वृद्धि मंत्र | Vyaapar Vruddhi Mantra | व्यापार वृद्धि मंत्र | Vyaapar Vruddhi Mantra | Reviewed by karmkandbyanandpathak on 5:25 PM Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.